BLOGGER TEMPLATES AND TWITTER BACKGROUNDS

Tuesday, October 19, 2010


मौसम

बारिश का ये मौसम,
कुछ याद दिलाता है !
किसीके साथ होने का,
एहसास दिलाता है !

फिज़ा भी सर्द है,
यादें भी ताज़ा है !
ये मौसम किसीका प्यार,
दिल में जगाता है !

भीगी हुई रातें,
ख़ामोश सी बातें,
ऐसे में कुछ कहूँ तो,
हर लफ्ज़ मरहम हो जाता है !

बरसात की है बूँदें,
बूँदों में है ख़ुशबू,
ये लम्हा दिल का एहसास छू जाता है !

अब कह दो तुम अपने दिल की बात,
ये मौसम पल भर में बीत जाता है !

26 comments:

Apanatva said...

ati sunder.....
ye lamhe sada sath rahe isee dua ke sath .

संजय भास्कर said...

मन की ख्वाहिशों को
शब्दों में कहती हुई
.............सुन्दर रचना

संजय भास्कर said...

ts realy Beautiful one !!

Best Regards
Sanjay
http://sanjaybhaskar.blogspot.com

Shekhar Suman said...

बहुत ही भावनामयी रचना..अक्सर मौसम से कई यादें जुड़ जाती हैं...

खासकर के यह बारिश का मौसम कई दबे एहसास और यादें को कुरेद देता है...

मेरी पिछली कई रचनाओं को आपकी प्रतिक्रिया का इंतज़ार है..मेरे नए ब्लॉग को भी जरूर देखें...

Coral said...

बारिश का ये मौसम,
कुछ याद दिलाता है !
किसीके साथ होने का,
एहसास दिलाता है !


...sundar bhavpurna rachna !

P.N. Subramanian said...

सुन्दर अभिव्यक्ति. फ़िल्मी गाना याद आ गया "ज़िन्दगी भर नहीं भूलेगी ये बरसात की रात"

Sonal said...

bahut acha laga... bin mousam barsaat ka maza aaya...

Mere blog par bhi sawaagat hai aapka.....

http://asilentsilence.blogspot.com/

http://bannedarea.blogspot.com/

Music Sunne or Download karne ke liye Visit karein...
Download Direct Hindi Music Songs And Ghazals

arvind said...

अब कह दो तुम अपने दिल की बात,
ये मौसम पल भर में बीत जाता है !
....dil ko chhuti hue rachna.

P S Bhakuni (Paanu) said...

बारिश का ये मौसम,
कुछ याद दिलाता है !
किसीके साथ होने का,
एहसास दिलाता है !...........
.सुन्दर रचना

Mayank Bhardwaj said...

सुन्दर रचना

A said...

I love rain :) Beautiful one.

जयकृष्ण राय तुषार said...

bahut sundar abhivyakti badhai allahabad me bhi barish ho rahi hai

सुरेन्द्र "मुल्हिद" said...

mausam na beete...yehi kaamna hai!

डॉ. मोनिका शर्मा said...

खूबसूरत शब्दों में ढले मन के भाव.... प्यारी रचना

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

मैच्योर होती हुई कविता है बबली!! बधाई!!

जयकृष्ण राय तुषार said...

very nice post badhai blog per ek sundar geet hai

Sunil Kumar said...

kavita ke madhyam se aapne dil ki bat kah di hai

VIJAY KUMAR VERMA said...

बारिश का ये मौसम,
कुछ याद दिलाता है !
किसीके साथ होने का,
एहसास दिलाता है !
बहुत ही भावनामयी रचना

डॉ. नूतन - नीति said...

bahut sundar...barish aur sardi me ye kavita bahut sundar..

My journey said...

Last two lines were just awesome!!

जयकृष्ण राय तुषार said...

karva chauth ki shubhkamnayen

mridula pradhan said...

bahot achchi lagi.

A said...

I read it before but I came to read again as it is kind of raining here....

One word for this poem WOW....

Every time I read your poem second or third time, I like it more...never get bored with your poem. I really think you should compile a book.

VIJAY KUMAR VERMA said...

बहुत खूब....और बहुत ही सुंदर लिखा है आपने

VIJAY KUMAR VERMA said...

अब कह दो तुम अपने दिल की बात,
ये मौसम पल भर में बीत जाता है !
bahut hee bhawuk panktiya...DEEPAWALI KEE HARDIK SHUBHKAMNAYEN

पलाश said...

सच बारिश का मौसम होता ही ऐसा है , अक्सर पानी में भी आग लगाता है ।
अपने साथ साथ यादों के मंजर भी बहा लाता है
बहुत खूब फरमाया आपने ।