BLOGGER TEMPLATES AND TWITTER BACKGROUNDS

Saturday, November 6, 2010


दिवाली

मुस्कुराते हँसते दीप जलाये,
जीवन में नयी खुशियाँ लेकर आये,
दुःख दर्द भूलकर गले लगाये,
मिलजुलकर सब दिवाली मनाये !

सुख सम्पदा सबके जीवन में आये,
सुन्दर दीपों से आँगन जगमगाये,
चारों तरफ़ रोशनी ही रोशनी छाये,
पटाखों की बौछार से जग झिलमिलाये !

रंग बिखर रही फुलझरियां,
टीम टीम दीपों की लड़ियाँ,
दमक रही घर द्वारों पर,
दीपों का ये त्यौहार है अनूठा !

बम फटे और चले पटाखें,
रोशनी से मूंद मूंद गयी सबकी आँखें,
घर घर में छायी खुशहाली,
देखो मुस्काती आयी दिवाली !

14 comments:

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत खूबसूरत अभिव्यक्ति ...दीपावली की शुभकामनायें

M VERMA said...

खूबसूरत और सुन्दर मनोकामना है रचना में
साधुवाद इस मनोकामना के लिये
दीवाली की हार्दिक शुभकामनाएँ

मनोज कुमार said...

दीपावली की शुभकामनायें!

जयकृष्ण राय तुषार said...

आपको भी ज्योति पर्व दीपावली की शुभकामनाएँ

A said...

Very nice. AWESOME. Diwali Mubarak to you too :))

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

खूबसूरत अभिव्यक्ति....दीवाली की हार्दिक मंगलकामनाएं

संजय भास्कर said...

दीवाली की हार्दिक मंगलकामनाएं

विजयप्रकाश said...

सुंदर भावनायें उकेर दी है आपने दीपावली की...
आपके और आपके परिवार में यह दीपावली सुख,स्मृद्धि एवं स्वास्थ्य लाये इसी कामना के साथ मेरी शुभकामनायें स्वीकार करें.

Abhilash Pillai said...

Marvellous poem Babli. Dil kush kar diya aapne.

Sunil Kumar said...

दीपावली की शुभकामनाएँ

sandhyagupta said...

Der se hi sahi diwali ki dheron shubhkamnayen.

विरेन्द्र सिंह चौहान said...

बहुत बढ़िया .... आभार...

Ankit said...

You have created a really beautiful place over here i must say !!!
great blogs and great posts !!!

Happy blogging and take care !!!

Sulagna said...

An award for you http://e-senseofspicenfragrance-sulagna.blogspot.com/