BLOGGER TEMPLATES AND TWITTER BACKGROUNDS

Thursday, March 17, 2011

रंगों का त्यौहार

अनेक रंग है इस पर्व के,
आओ खेले होली हम सब मिलके,
भीगेंगे सारे रंगों में,
झूमेंगे साथी संगों में !

पर्व ये ऐसा जब रंग खिलते हैं सारे,
बैर और दुश्मनी के दंभ धुलते हैं सारे,
बहता है रंग जो चारों ओर,
हर तरफ गूंजे शोर ही शोर !

कपड़ों पर बिखरे गुलाल है,
देश भर में ख़ुशी का माहौल है,
विचार है ख़ास, बातों में है मिठास,
मधुर गीत से बने ये त्यौहार ख़ास !

पिचकारियों से रंग बिखेरते हैं सब,
बच्चे जवान बूढ़े आनंद लेते हैं संग,
छाई है प्रसन्नता हर घर द्वार,
आयी है देखो रंगों का त्यौहार !


27 comments:

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

होली से सराबोर रचना ....होली की शुभकामनायें

Kailash C Sharma said...

बहुत सुन्दर..होली की हार्दिक शुभकामनायें!

पी.एस .भाकुनी said...

भीगेंगे सारे रंगों में,
झूमेंगे साथी संगों में !....
सुन्दर रचना ...होली की शुभकामनायें

Mukesh Kumar Sinha said...

holi ki shubhkamnayen.........:)

A said...

Very good. Happy Holi

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

बड़ी प्यारी मनभावन रचना ..... होली की हार्दिक शुभकामनायें

महफूज़ अली said...

होली की हार्दिक शुभकामनायें..........

Rakesh Kumar said...

आपने बिलकुल ठीक कहा कि
" अनेक रंग है इस पर्व के,
आओ खेले होली हम सब मिलके,
भीगेंगे सारे रंगों में,
झूमेंगे साथी संगों में !"
होली के पावन पर्व पर आपको ढेर सी शुभ कामनाएँ. आप मेरे ब्लॉग 'मनसा वाचा कर्मणा '
पर आये इसके लिए बहुत बहुत धन्यवाद .

सुरेन्द्र "मुल्हिद" said...

khoobsurat holi geet!

चैतन्य शर्मा said...

होली की शुभकामनायें...... हैप्पी होली

Kunwar Kusumesh said...

हफ़्तों तक खाते रहो, गुझिया ले ले स्वाद.
मगर कभी मत भूलना,नाम भक्त प्रहलाद.
होली की हार्दिक शुभकामनायें.

निर्मला कपिला said...

होली की खूब रंग बरसाये कविता मे। आपको सपरिवार होली की हार्दिक शुभकामनायें।

सतीश सक्सेना said...

होली की शुभकामनायें स्वीकार करें !!

Dr (Miss) Sharad Singh said...

पर्व ये ऐसा जब रंग खिलते हैं सारे,
बैर और दुश्मनी के दंभ धुलते हैं सारे,
बहता है रंग जो चारों ओर,
हर तरफ गूंजे शोर ही शोर !....

शब्द-शब्द फागुनमयी सुन्दर अभिव्यक्ति ....
आपको रंगपर्व होली पर अनेक सतरंगी शुभकामनायें !

ज्योति सिंह said...

holi parv ki badhai aapko ,achchhi rachna is parv ki .

आचार्य परशुराम राय said...

होली पर अच्छी कविता।
आभार और आपको तथा आपके पूरे परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनाएँ।

Patali-The-Village said...

होली पर अच्छी कविता।
होली की हार्दिक शुभकामनायें|

Abhilash Pillai said...

O Holi Gayee Holi Gayee Dekho Holi Gayee Re

Khelo Khelo Rang Hai Koi Apne Sang Hai Bheega Bheega Ang Hai

O Holi Gayee Holi Gayee Dekho Holi Gayee Re...

happy holi

शिखा कौशिक said...

पिचकारियों से रंग बिखेरते हैं सब,
बच्चे जवान बूढ़े आनंद लेते हैं संग,
छाई है प्रसन्नता हर घर द्वार,
आयी है देखो रंगों का त्यौहार
bahut sundar .Holi parv ki hardik shubhkamnen.

राजेन्द्र राठौर said...

सुंदर कविता। जिसकी सुंदरता बयां करने के लिए मेरे पास अल्फाज नहीं हैं।

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

होली के पर्व की अशेष मंगल कामनाएं।
जानिए धर्म की क्रान्तिकारी व्‍याख्‍या।

शरदिंदु शेखर said...

होली की शुभकामनाएं

Rakesh Kumar said...

मैंने अपने ब्लॉग 'मनसा वाचा कर्मणा' पर नई पोस्ट 'बिनु सत्संग बिबेक न होई' लिखी है.कृपया,आकर अपने बहुमूल्य विचारों से अवगत कराएँ.

मेरे भाव said...

पर्व ये ऐसा जब रंग खिलते हैं सारे,
बैर और दुश्मनी के दंभ धुलते हैं सारे,
बहता है रंग जो चारों ओर,
हर तरफ गूंजे शोर ही शोर !.......

wish you very happy holi.

संजय भास्कर said...

वाह!!!वाह!!! क्या कहने, बेहद उम्दा

संजय भास्कर said...

रंगों का त्यौहार बहुत मुबारक हो आपको और आपके परिवार को|
कई दिनों व्यस्त होने के कारण  ब्लॉग पर नहीं आ सका
बहुत देर से पहुँच पाया ....माफी चाहता हूँ..

देवेन्द्र पाण्डेय said...

..सकारात्मक सोच से लिखी गयी सुख देती कविता।