BLOGGER TEMPLATES AND TWITTER BACKGROUNDS

Saturday, December 24, 2011

मोहब्बत भरी ज़िन्दगी

कभी करती है आँख मिचौली,
कभी सजाये सपनों की डोली,
शरारत उम्र भर करती ही रहती,
है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !


कभी खुशियों का मेला लगता है,
कभी जीवन झमेला लगता है,
कभी चुराए हमसे ये नज़र,

है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !

अपनों से जुदा कर देती है,
आँखों में पानी भर देती है,
कोई कितनी शिकायत करेगा,

है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !

दूर ये हो तो गम होता है,
आँखों का दरिया नम होता है,
ख़ुद अपनी मर्ज़ी से चलती है,

है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !

आँसूं भी हो तो पी लेते हैं,
पल दो पल ख़ुशी से जी लेते हैं,
पलभर न रोका हमें कभी,
है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !

कभी पास है तो कभी दूर है,
इसकी नज़ाकत भी नूर है,
जीना भी हमको सिखाती है ये,
है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !

ज़िन्दगी गुज़र जाये तकरार में,
बेहतर है ये गुज़र जाये प्यार में,
इतनी इजाज़त है ज़िन्दगी से,
है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !

29 comments:

ऋता शेखर 'मधु' said...

ज़िन्दगी गुज़र जाये तकरार में,
बेहतर है ये गुज़र जाये प्यार में,
इतनी इजाज़त है ज़िन्दगी से,
है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !

शानदार लिखा है...बधाई|

Amrita Tanmay said...

मोहब्बत भरी ज़िन्दगी ही खुबसूरत होती है .

संतोष कुमार said...

सुंदर कविता जिंदगी से लबरेज़ ..!

आभार !!

मेरी नई रचना अनमने से ख़याल

Kunwar Kusumesh said...

ज़िन्दगी गुज़र जाये तकरार में,
बेहतर है ये गुज़र जाये प्यार में,
इतनी इजाज़त है ज़िन्दगी से,
है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !

lovely poem

Vijai Mathur said...

हकीकत का बयान है यह कविता।

संगम "कर्मयोगी" said...

Bahut khub hai aapki mohabbat se bhari jindagi, chehekte rahiye:-)

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

बहुत अच्छा सन्देश देती कविता!! आपको क्रिसमस की बहुत सारी शुभकामनाएं!!!

Patali-The-Village said...

शानदार कविता| आपको क्रिसमस की बहुत सारी शुभकामनाएं|

dheerendra said...

मिलती है जिंदगी में मोहब्बत कभी कभी,..
बहुत खुबशुरत रचना,....सुंदर पोस्ट..

"काव्यान्जलि"--नई पोस्ट--"बेटी और पेड़"--

मनीष सिंह निराला said...

उर्मी जी ! बहुत बेहतरीन लिखा है आपने ज़िन्दगी पर ...!
आप चाहे तो मेरी एक पुरानी पोस्ट
"ज़िन्दगी की पहेली " पे आप आ सकते है ..
लिंक है:-
http://www.mknilu.blogspot.com/2011/10/blog-post.html

मेरे तरफ से भी क्रिसमस की हार्दिक शुभकामनायें !

Rakesh Kumar said...

कभी पास है तो कभी दूर है,
इसकी नज़ाकत भी नूर है,
जीना भी हमको सिखाती है ये,
है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !

वाह! वाह! वाह!
कुछ और निकल ही नही रहा दिल से
सिवाय 'वाह' के.

मोहब्बत भरी जिंदगी सदा सलामत रहे.
यही दुआ है मेरी.

प्रेम सरोवर said...

बहुत ही सुंदर भावों का प्रस्फुटन देखने को मिला है । मेरे नए पोस्ट उपेंद्र नाथ अश्क पर आपकी सादर उपस्थिति की जरूरत है । धन्यवाद ।

Dev said...

mobbat ko samarpit Khooobsoorat rachna

NISHA MAHARANA said...

ज़िन्दगी गुज़र जाये तकरार में,
बेहतर है ये गुज़र जाये प्यार में,
इतनी इजाज़त है ज़िन्दगी से,
है ये मोहब्बत भरी ज़िन्दगी !100%agree.

संजय कुमार चौरसिया said...

सुन्दर प्रस्तुति के लिए आभार

dinesh aggarwal said...

जिन्दगी मुहब्बत होती है,
मुहब्बत जिन्दगी होती है,
बिना मुहब्बत के जिन्दगी,
जिन्दगी नहीं होती है।

Suresh kumar said...

Bahut hi khubsurat likha hai. Payar ho to jindgi vakai khubsurat hoti h.

Kewal Joshi said...

मुहब्बत ज़िन्दगी है . . . शानदार उद्गार.

Rohit said...

just one word Urmi! superb.
The first poem on the header-
"phool ki nazar...."....touched me to the core..
I'm only starting to learn writing hindi kavita and your works are really motivational...full of indepth meaning...
bahut hi khubsurat,gehrai se bhare kavitayan...following you,
now must check out your shayri blog too...u seem a jack of all trades:)hats off!

मनीष सिंह निराला said...

आपको भी नववर्ष की हार्दिक शुभकामनायें !
आभार !

Vaneet Nagpal said...

"टिप्स हिंदी" में ब्लॉग की तरफ से आपको नए साल के आगमन पर शुभ कामनाएं |

टिप्स हिंदी में

Bharat Bhushan said...

आपको और परिवारजनों को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ.

G.N.SHAW said...

इस अवसर पर वश यही कहूँगा ---भगवान सभी के दिल में शांति और सहन की शक्ति दें ! मै और मेरी धर्मपत्नी की ओर से आप सभी को सपरिवार -नव वर्ष की शुभ कामनाएं !

Naveen Mani Tripathi said...

AK ACHHI RACHAN ...BADHAI URMI JI .

Naveen Mani Tripathi said...

PYAR KE HR LAFJ JINDGI KE MAYNE SIKHATE HAIN VAKAI APKI RACHANA BEHAD PRABHAVSHALI LAGI NAV VARSH KE SATH HI ACHHI RACHANA KE LIYE APKO BADHAI URMI JI

veerubhai said...

सकारात्मक भाव के अच्छी रचना .

chirag said...

bahut khoob likha
jindagi hamesha se ek paheli rahi hain

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

बहुत ही सुन्दर... बहुत ही प्यारी!!

प्रेम सरोवर said...

आपकी प्रस्तुति अच्छी लगी । मेरे नए पोस्ट "तुझे प्यार करते-करते कहीं मेरी उम्र न बीत जाए" पर आपका इंतजार रहेगा । धन्यवाद